Category archives for: Hindi

ऐसे थोड़े न होता है ?

संतराम बजाज कोई तो रोके मोदी जी को| किस स्पीड से अभियान पे अभियान चलाए जा रहे हैं|हिन्दुस्तान के अच्छे भले सिस्टम को बदलना चाहते हैं|सब घोटाले बंद करवा रहे हैं और जो हो चुके हैं उन के करने वालों को तिहाड़ जेल में डाले जा रहे हैं| भला कोई बात हुई? आखिर वे कितने […]

Submit your stories in the SBS National Languages competition 2019

Encouraging language learning and language retention in Australia, and in recognition of the United Nations’ International Year of Indigenous languages, SBS today announced the launch of the SBS National Languages Competition 2019. In its fourth year, the nationwide competition is open to Australians of all ages who are learning a language, including English and Aboriginal and […]

सरकारी न्योता…

संतराम बजाज  “बजाज साहिब, आप वहां दिखाई नहीं दिए?” हमारे मित्र वर्मा जी ने पूछा| “कहाँ ” “अरे, भई पार्लियामेंट हाउस में |” “जनाब, हम ने कोई चुनाव आदि जीता नहीं तो हम भला वहां क्यों जाते?” “अरे, मैं तो पार्लियामेंट हाउस में पार्टी की बात कर रहा हूँ, जहाँ यहाँ के सब प्रतिष्टित लोगों […]

इस्तीफे ही इस्तीफे…..

संतराम बजाज  “लो जी, अब सिध्धू भी इस्तीफों के ड्रामे में शामिल हो गया,” दर्शन सिंह बड़े ड्रामाई अंदाज़ में बोला| पहले राहुल अकेला था| उस ने शायद हवा में तीर फेंका था, लेकिन जब किसी और ने इस्तीफा पेश नहीं किया तो उसे शायद शक होने लगा कि कहीं उस ने अपने पाँव पर […]

ICSOA’s ‘Haq-O-Aman Sath-Sath’ joint Hindi-Urdu Mushaira a great success

By Neena Badhwar Indian Crescent Society of Australia Inc. (ICSOA) presented a joint Hindi-Urdu Mushaira on July 6, 2019 at Berala Community Centre. Sydney’s local poets joined in with the chief guest poets of the evening – ‘Haq-O-Aman Sath-Sath’ in an inspiring Mushaira plus Kavi Sammelan. Chief guests were the distinguished poets from India and […]

आ जा, अब तो आ जा!

संतराम बजाज  दो तीन दिन से बड़ा परेशान फिर रहा हूँ! ख़ास कर आज सुबह से बैठा हूँ? न कहीं जा सकता हूँ, यहाँ तक कि बाथरूम जाने में हिचकचाहट हो रही है कि कहीं वह आ न जाए और दरवाज़ा न खुलने पर वापस चला जाए| आप सोच रहे होंगे कि ऐसा भी कौन […]

विशेष योग-शिविर बाबा रामदेव का….

संतराम बजाज भारत के प्रसिद्ध योग गुरु बाबा रामदेव लोकसभा के चुनाव के बाद चिंतित हैं| कारण? बड़ी तादाद में चुनावों में हारे हुए नेता लोग| हार जाने और गठबंधन टूट जाने के कारण, एकदम से उन के व्यवहार में तबदीली आ रही है| हीन भावना, बिना बात के गुस्सा, दूसरों को कसूरवार समझना, उन […]

२०१९ लोक सभा चुनाव उपरान्त, राहुल-मोदी संवाद

संतराम बजाज   “नमस्कार मोदी जी|,” फोन उठाने पर आवाज़ आई| “नमस्कार, कौन बोल रहा है” “इतनी जल्दी भूल गए ? वही ‘चौकीदार चोर है’ वाली मधुर आवाज़ वाला|” “ही!ही! – अरे राहुल बाबा – तुम्हारा हारने के बाद रो रो कर गला कुछ सूख गया है, इसलिए पहचान नहीं पाया| वैसे गला तो मेरा […]

खुफ़िया डायरियां ..भाग २

संत राम बजाज पूरे पांच साल बाद फिर मेरे हाथ लगी हैं कुछ खुफिया डायरियां जो भारतीय  लीडरों की हैं| पिछले लोकसभा के चुनावों के समय मैं ने उन के कुछ अंश आप के सामने रखे थे| जिन में प्रमुख नरेंद्र मोदी, राहुल गांधी, जो उस समय प्रधान मंत्री बनने के लिए मैदान में थे, […]

शुक संदेह

सी. राजागोपालाचारी “परमात्मा सर्वव्यापी है। लेकिन कुछ लोग उसे विभिन्न मूर्तियों और शिव-लिंगों में बंद करके रखना चाहते हैं। नाना-रुपी मूर्तियां बना कर वे उनकी पूजा करते हैं और अपने को शैव, वैष्णव आदि भिन्न-भिन्न मतावलम्बी बतलाते हैं !” एक कौवे ने अपने पास बैठे तोते से इस प्रकार अपना मत प्रकट किया। कौवा मंदिर […]

Search Archive

Search by Date
Search by Category
Search with Google