ब्रेकिंग न्यूज़… संतराम बजाज

ब्रेकिंग न्यूज़

संतराम बजाज

मेरे लिए यह ‘ब्रेकिंग न्यूज़’ एक मसला बना हुआ है| जब भी टीवी को समाचार सुनने के लिए ऑन करो, ब्रेकिंग न्यूज़ ही नजर आती है| अब मेरी समझ में नहीं आता कि यह क्या हो रहा है| पहले होता यह था कि कोई बहुत ही जरूरी घटना घटी हो तो दुसरे समाचारों को रोक कर, उस समाचार को प्राथमिकता देने के लिए ‘ब्रेकिंग न्यूज़’ का लेबल लगा दर्शकों को दिखाई जाती थी | परन्तु अब तो हद ही हो रही है, हर समाचार को ऐसे सनसनी खेज़ ढंग से पेश किया जाता है कि मानो जासूसी कहानी पढ़ रहे हों|

हर न्यूज़ ब्रेकिंग न्यूज़ है और सारा दिन उस को इतनी बार दिखाते हैं कि ‘ब्रेकिंग’ की बजाए ‘ब्रोकन’ बन कर  रह जाती है| क्यों नहीं एक बार दिखा आगे चलते बनें दूसरी ब्रेकिंग न्यूज़ की तलाश में?

और तो और, इतनी चैनल हैं कि एक तरह का मुकाबला होता रहता है कि पहले कौन, उस खबर को दिखाता है| और इस चक्कर में जो कुछ भी उन के हाथ लगे, वह ब्रेकिंग न्यूज़ बन जाती है|

“मायावती ने राज्य सभा से इस्तीफा दे दिया”, तो मानते हैं कि ब्रेकिंग न्यूज़ है, परन्तु “राहुल गांधी संसद में सोते हुए पकड़े गये”, भला कहाँ  की ब्रेकिंग न्यूज़ है?

“कश्मीर में अमरनाथ यात्रीयों पर हमले का ३६०0 कवरेज|’, हमारी चेनल पर |”

कितने दुःख की बात है कि उन के लिए शवों को चारों ओर से दिखाने में भी एक गर्व की बात बन जाता है | यह ठीक है की यात्रियों पर हमले का समाचार महत्त्वपूर्ण है, परन्तु उन को सम्मान देने की बजाए, एक लम्बी कहानी बना सारा दिन उसे खींचा जाता है|

“तेजस्वी को सैक करें या ना? नितीश असमंजस में !

लालू और उन के परिवार के बारे में तो दो एक ब्रेकिंग न्यूज़ प्रतिदिन होती हैं|

ब्रेकिंग न्यूज़: “राहुल ने मोदी की हिटलर से तुलना की”

“इन्द्रा गांधी की इमरजेंसी को भूल गये क्या?,” स्मृति इरानी का पलटवार|

एक और ‘सुपर ब्रेकिंग न्यूज़’, आई एक चेनल पर: “सुभाष चन्द्र बोसे १९४५ में विमान दुर्घटना में नहीं मरे, बंदी बनाये गये और १९४७ में जेल से भागे”| नई इन्क्व्यारी की मांग|

समाचार की पुष्टि किये बिना ही, झट से दिखाने में उन्हें कोई आपत्ति नहीं|

कुछ और नाम भी चले हुए हैं, जैसे ‘ट्रेंडिंग नेव्ज़ ‘(Trending news), ‘बज्ज़िंग न्यूज़’(buzzing news)आदि

आदि |

एक खबर अभी हमारे अपने The Indian Down Under की सम्पादक नीना जी ने भेजी है, जो किसी टीवी ने ब्रेक नहीं की है, बल्कि Sydney Morning Herald में छपी है | ‘हाथ के अंगूठे और पहली उंगली के बीच में एक ‘microchip’ फिट किया जा रहा हहै, जिस से आप अपने सारे काम जो आप कार्ड द्वारा करते हैं, कर  सकेंगे| अब यह हुई ना ‘ब्रेकिंग न्यूज़’!

अब एक ‘fake News’ भी चल पड़ी है| उसे जब Exclusive और ब्रेकिंग न्यूज़ कह कर पेश किया जाए तो दिमाग को झंझोड़ कर रख देती हैं|

ऐसी खबरें या अफवाहें, चुनावों में या युद्ध की स्थिति में बड़ी चलती हैं| परन्तु कुछ लोग तो बेकार की झूटी खबरें फैला कर बड़े लीडरों पर कीचड़ उछालते हैं और काफी लोग उन्हें सच मान  लेते हैं| जैसे भारत के पहले प्रधान मंत्री श्री जवाहर लाल नेहरू के बारे में, कि उन के दादा मुसलमान थे| या फिर उन की ही बेटी, जो बाद में स्वयं भी प्रधान मंत्री बनीं, श्रीमती इन्द्रा गांधी के चरित्र पर लांछन लगाने के लिए ‘फेक न्यूज़’ का सहारा लेते हैं|

ब्रेकिंग न्यूज़: ‘अमेरिकन प्रेज़िडेंट ट्रम्प ने फ्रांस के प्रेज़िडेंट की बीवी को कहा,  “तुम्हारी फिगर बड़ी अच्छी है|”

अमेरिकन प्रेजिडेंट तो ‘ब्रेकिंग न्यूज़’ वालों के लिये, एक बहुत बड़ा ‘मसाला’ बने हुए हैं|

पर जो भी समाचार उन के विरुद्ध में छपे, उसे वह झट से ‘fake news’ का नाम दे देते हैं|

सच क्या है, झूठ क्या है, समझ पाना कठिन हो जाता है|

फ़िल्मी सितारों के बारे में तो आम तौर पर ब्रेकिंग न्यूज़ आती रहती हैं|

ब्रेकिंग न्यूज़- ‘कपिल शर्मा ने अनिल और अर्जुन कपूर और ‘मुबारकां’ की पूरी टीम को घंटों इंतज़ार कराया !’

और सुनिए |“ कटरीना कैफ ने गाजर उगाईं अपने गार्डन में|”… हे भगवान्! और क्या अंडे उगायेगी!

“रणधीर कपूर और कटरीना के ‘ऑन’- ‘ऑफ’ इश्क़ की लेटिस्ट खबर! केवल हमारी चेनल पर ”             …. किस के पास समय है ऐसी फालतू खबर के लिए?

“सलमान खान ने हाँ कह दी”, “ शादी इसी महीने हो सकती है”|…. हम ने कौनसा बारात में जाना है?

“अनुष्का शर्मा और विराट कोहली होटल के एक कमरे में ” ….. अरे भई, दो अलग अलग कमरों में बैठ कर कैसे बात हो सकती है?

अब तो एक आदत सी पड़ गई है, ब्रेकिंग न्यूज़ की| यदि एक चैनल पर नहीं है तो टीवी का रिमोट हाथ में लिए एक से दूसरी और दूसरी से तीसरी चेनेलें बदलता रहता हूँ और आम तौर पर निराशा नहीं होती|

भारत, पाकिस्तान, चीन, अमेरिका से इतनी ‘ब्रेकिंग न्यूज़’ मिल जाती हैं की शेष और कहीं ढूँढने की आवश्यकता नहीं रहती|

‘पनामा पेपर्ज़ —मियाँ नवाज़ शरीफ इस्तीफा देंगे या नहीं- उन के आर्मी चीफ से ख़ास बात चीत|

‘इमरान खां के प्रधान मंत्री बनने के ख़्वाब, क्या कभी  पूरे होंगे? जानिये हमारी चेनल पर|

न्यूज़ तो फिर रोज़ ताज़ा होती हैं, इसलिए जब तक यह लेख पूरा होगा और आप पढ़ पायेंगे, कितनी और न्यूज़ ब्रेक हो चुकी होंगी |

वैसे ऐसी ब्रेकिंग न्यूज़ भी आती रहती हैं जो कभी पुरानी नहीं होतें, बस उन का इंतज़ार कीजिये, भले ही वह  कुछ इस तरह की हो|

“दुल्हन ने किया शादी से इनकार| दुल्हे के नागिन डांस से भडकी”

“आड़ू के तेल से चमकदार बाल बनाने का फार्मूला, हमारी चेनल पर”|

ब्रेकिंग न्यूज़, “गंजेपन का इलाज मिल गया”|

या फिर, ब्रेकिंग न्यूज़, “मोदी जी ने छींक मारी और उन का जहाज़ दो घंटे लेट”, हमारी चेनल पर पायलेट से  Exclusive इंटरव्यू|

 

Short URL: http://www.indiandownunder.com.au/?p=9291

Posted by on Jul 25 2017. Filed under Community, Featured, Hindi, Humour. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. Responses are currently closed, but you can trackback from your own site.

Comments are closed

Search Archive

Search by Date
Search by Category
Search with Google